Thursday, December 8, 2022
HomeStatesगिरने के बाद भी खत्म नहीं हुई है ट्विन टावर की कहानी,...

गिरने के बाद भी खत्म नहीं हुई है ट्विन टावर की कहानी, सोसाइटी के लोगों ने बनाया ये खास प्लान— News Online (www.googlecrack.com)

नोएडा के सेक्टर 93ए में सुपरटेक ट्विन टावर (Noida Supertech Twin Towers) 28 अगस्त को गिरा दिया गया. महज कुछ ही सेकंड में 32 मंजिला इमारत पूरी तरह से जमींदोज हो गया. भ्रष्टाचार के सहारे खड़ी की गई इमारतों को गिराने का आदेश सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने दिया था. सुप्रीम कोर्ट में सुपरटेक ट्विन टावर के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी गई. एमराल्‍ड कोर्ट सोसायटी में रह रहे रेजिडेंट ने अवैध रूप से बनी इमारत का विरोध किया था. सुप्रीम कोर्ट ने एमराल्‍ड कोर्ट सोसायटी की आरडब्ल्यूए के हित में फैसला लिया. कानूनी जंग को अंजाम तक पहुंचने में एक दशक से ज्यादा का समय लग गया.

जीत की खुशी में विजय दिवस मनाने का एलान

लड़ाई का अंत ट्विन टावर ढहने के रूप में सामने आया. ट्विन टावर विध्वंस को महीना भर होने जा रहा है. अब एमराल्‍ड कोर्ट सोसायटी ने जीत की खुशी में विजय दिवस मनाने का एलान किया है. आरडब्ल्यूए दिवाली (Diwali) के मौके पर विजय दिवस का आयोजन करेगा. आयोजन में लेजर लाइट शो के जरिए ट्विन टावर की पूरी कहानी दिखाई जाएगी. लेजर लाइट शो में ट्विन टावर के बनने से लेकर गिरने तक की जानकारी होगी. एमराल्ड कोर्ट सोसायटी की आरडब्ल्यूए अध्यक्ष उदय भान सिंह तेवतिया ने एबीपी न्यूज को बताया कि रेजिडेंट ने ट्विन टावर के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी है.

Delhi Traffic Advisory: रामलीला को देखते हुए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने जारी की एडवाइजरी, घर से निकलने से पहले जरूर जानें

लेजर लाइट शो के जरिए ट्विन टावर की कहानी 

इसलिए आरडब्ल्यू ने तय किया है कि टावर को गिराए जाने का विजय दिवस मनाया जाए. विजय दिवस मनाए जाने की तैयारियां की जा रही हैं. 19 या 20 अक्टूबर को विजय दिवस का आयोजन किया जाएगा. उन्होंने कहा कि लेजर लाइट शो के जरिए ट्विन टावर की पूरी कहानी बताई जाएगी. ट्विन टावर के निर्माण से लेकर विध्वंस तक पहुंचान में किए गए संघर्ष का जिक्र होगा. सोसायटी ने मिलकर भ्रष्टाचार के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी थी. बता दें कि इमारत को गिराने के बाद अभी मलबा उठाने का काम जारी है. मलबे को उठा कर नोएडा के सी एंड डी वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट तक पहुंचाया जा रहा है. मलबा साफ होने के बाद ट्विन टावर की जमीन पर आगे निर्माण का फैसला अभी नहीं किया गया है.

Delhi: फार्मासिस्ट एसोसिएशन ने सरकार के सामने रखी मांगे, कहा- यूपी समेत कई राज्यों में मिलती है ये सुविधा, पर दिल्ली में नहीं

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments