Monday, December 5, 2022
HomeStatesनोएडा-गाजियाबाद के कई इलाकों में 20 दिन तक नहीं होगी पानी की...

नोएडा-गाजियाबाद के कई इलाकों में 20 दिन तक नहीं होगी पानी की सप्लाई, जानें क्या है वजह— News Online (www.googlecrack.com)

साल में एक बार होने वाली सफाई के लिए गंगनहर (Gangnahar) को आज यानी 05 अक्टूबर 2022 दिन बुधवार की आधी रात से बंद कर दिया जाएगा. इससे अगले ही दिन से गंगनहर में वॉटर लेवल कम होने लगेगा और कुछ ही दिनों में गंगाजल की आर्पूति मिलना बंद हो जाएगी. गंगनहर में जल स्तर कम होने से प्रताप विहार प्लांट (Pratap Vihar Plant) में गंगाजल आर्पूति मिलनी बंद हो जाएगी. इससे टीएचए में करीब दस लाख लोगों समेत नोएडा (Noida) की कई कॉलोनियों में पानी की समस्या बढ़ जाएगी.  

बीस दिन के लिए बंद होगी गंगाजल की आर्पूति –

प्रताप विहार प्लांट में गागाजल आर्पूति बंद होने से टीएचए में और नोएडा में बीस दिनों के लिए गंगाजल की आर्पूति बंद हो जाएगी. हालांकि इस रान टीएचए की कॉलोनियों में नगर निगम और जीडीए अधिकारी ट्यूबवेलों से पानी की आर्पूति कराएंगे. सफाई के बाद गंगनहर में 24 अक्टूबर से हरिद्वार से पानी छोड़ा जाएगा. इससे 27 अक्टूबर से प्लांट से गंगाजल की आर्पूति फिर से ठीक से शुरू हो जाएगी.

इस तारीख से रुक जाएगी आर्पूति –
इस बारे में प्रताप विहार गंगाजल प्लांट प्रोजेक्ट मैनेजर का कहना है कि गंगनहर में सफाई के चलते दशहरे रात यानी आज रात से हरिद्वार से पनी बंद कर दिया जाएगा. 6 अक्टूबर की रात को प्लांट बंद कर दिया जाएगा लेकिन स्टोर किए गए पानी से 7 अक्टूबर तक गंगाजल आर्पूति की जाएगी. स्टोर गंगाजल खत्म होते ही 8 अक्टूबर से आर्पूति रुक जाएगी.

एक ही समय आएगा घरों में पानी –
नहर बंद रहने के दौरान नगर निगम वसुंधरा जोन में 108 नलकूप और जीडीए और 22 नलकूप से इंदिरापुरम में पानी की आर्पूति की जाएगी. वार्षिक सफाई के दौरान घरों में एक ही समय पानी भेजा जाएगा. लोग पानी स्टोर करके अपना काम चला सकते हैं. ऐसे में लोगों को पानी की समस्या से बीस दिन जूझना होगा. 27 अक्टूबर से चीजें सामान्य होंगी.

ये भी पढ़ें:

UP News: लखनऊ-कानपुर में बड़ा हादसा, मुर्ति विसर्जन के दौरान 10 लोग नदी में डूबे, सर्च अभियान जारी

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments