Saturday, February 4, 2023
HomeTop Storiesअसम सरकार और 8 जनजातीय समूहों के बीच हुआ समझौता, अमित शाह...

असम सरकार और 8 जनजातीय समूहों के बीच हुआ समझौता, अमित शाह ने बताया मील का पत्थर— News Online (www.googlecrack.com)

Assam Government Sign Tripartite Peace: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) की मौजूदगी में असम सरकार (Assam Government) और 8 जनजातीय समूहों (Eight Tribal Outfits) के प्रतिनिधियों के बीच समझौते पर हस्ताक्षर हुए. अमित शाह ने कहा कि असम और पूरे उत्तर पूर्व के लिए आज का दिन बहुत महत्तवपूर्ण है. एक लंबी प्रक्रिया के बाद नार्थ ईस्ट को शांत और समृद्ध बनाने का काम पूरा हुआ है. 

अमित शाह ने कहा कि विकास को गति देकर नार्थ ईस्ट (North East) को आगे बढ़ाया जा रहा है. सरकार का सबसे बड़ा एजेंडा नार्थ ईस्ट में शांति बहाल करना है. उन्होंने कहा कि अरासु से युवकों ने हथियार डालकर अपने आप को मुख्यधारा में जोड़ा है. सरकार हर विवाद को 2024 तक खत्म करना चाहती है. 

‘आदिवासी जनजाति को मिलेगा सामाजिक न्याय’

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद उत्तर पूर्व को शांत और विकसित बनाने के लिए कई तरह के कार्यक्रम किए गए. इसमें आज एक बड़ा मील का पत्थर हम पार कर आगे बढ़ रहे हैं. वहीं, असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा मानना है कि इस समझौते से आदिवासी जनजाति के लोगों को सामाजिक न्याय मिलेगा, आर्थिक विकास का एक बहुत बड़ा मौका मिलेगा और साथ ही राजनीतिक अधिकार भी मिलेगा. 

इन आदिवासी संगठनों के साथ हुआ करार 

सरकार ने जिन आदिवासी संगठनों के साथ त्रिपक्षीय शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए वे हैं- बिरसा कमांडो फोर्स (BCF), असम की आदिवासी कोबरा मिलिट्री (ACMA), ऑल आदिवासी नेशनल लिबरेशन आर्मी (AANLA), आदिवासी पीपुल्स आर्मी (APA), संथाली टाइगर फोर्स (STF), एएएनएलए-एफजी (AANLA-FG), बीसीएफ-बीटी (BCF-BT), एसीएमए-एफजी (ACMA-FG).

ये भी पढ़ें: 

SCO Summit: कारोबार, संपर्क और क्षेत्रीय सहयोग…कूटनीति से कुछ इस तरह हितों को साधेंगे पीएम मोदी

सीएम KCR ने मानी असदुद्दीन ओवैसी की सलाह, इस नाम पर होगा तेलंगाना सचिवालय का नाम

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments