Sunday, February 5, 2023
HomeTop Storiesकांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव के लिए अशोक गहलोत कर सकते हैं नामांकन,...

कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव के लिए अशोक गहलोत कर सकते हैं नामांकन, दिल्ली आकर सोनिया से मिलेंगे— News Online (www.googlecrack.com)

Rajasthan Congress Crisis: कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव (Election) जैसे-जैसे नजदीक आता जा रहा है, वैसे-वैसे सस्पेंस भी खत्म होता दिख रहा है. इस चुनाव को लेकर सभी की नजरें गढ़ी हुई हैं क्योंकि पार्टी की अंदरूनी कलह सभी के सामने आ चुकी है. राजस्थान (Rajasthan) में गहलोत और पायलट (Sachin Pilot) का विवाद खुलकर सामने आया तो कांग्रेस (Congress) की कलई खुलनी शुरू हो गई. अब ताजा मामले में खबर आ रही है कि अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) अध्यक्ष पद के चुनाव के नामांकन कर सकते हैं.

राजस्थान में कांग्रेस की सियासत की परतें धीरे-धीरे खुलनी शुरू हो गई हैं. सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि अशोक गहलोत आज दोपहर बात दिल्ली आ सकते हैं और सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे. इस मुलाकात के बाद साफ हो जाएगा कि वो अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन करेंगे कि नहीं. वहीं, सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक ये तय माना जा रहा है कि वो इस चुनाव के लिए नामांकन करेंगे. वो कल नामांकन कर सकते हैं. कांग्रेस हाईकमान से बगावत के बाद से गहलोत के नामांकन पर सस्पेंस था.

सोनिया गांधी से मुलाकात और गहलोत का नामांकन, जानिए 10 अपडेट्स

  • राजस्थान कांग्रेस में हुई बगावत के बाद से सीएम अशोक गहलोत को लेकर सस्पेंस था कि वो अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ेंगे कि नहीं. इस पूरे विवाद को लेकर राज्य प्रभारी अजय माकन और पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे ने सोनिया गांधी को रिपोर्ट सौंप दी है.
  • सूत्रों के मुताबिक सोनिया गांधी को सौंपी गई रिपोर्ट में गहलोत के इन करीबियों का भी जिक्र किया गया है. जिसके बाद सोनिया ने शांति धारीवाल, महेश जोशी और धर्मेंद्र राठौर को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. कुल मिलाकर ये तय है कि भले ही गहलोत अपने कद की वजह से बच निकलें, लेकिन किसी न किसी पर गाज जरूर गिरेगी.

  • आज अशोक गहलोत सोनिया गांधी से दोपहर बाद मुलाकात कर सकते हैं. अब सभी को सोनिया के फैसले का इंतजार है.
  • बताया जा रहा है कि अशोक गहलोत की बगावत के बाद से सोनिया नाराज चल रही हैं. हालांकि, सूत्रो से जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक गहलोत के नामांकन को लेकर रास्ता एक हद तक साफ दिख रहा है.
  • रविवार को विधायक दल की बैठक से पहले शांति धारीवाल के घर पर गहलोत समर्थकों ने बैठक की थी. इस बैठक में इन विधायकों ने साल 2020 में अशोक गहलोत के खिलाफ सचिन पायलट के विद्रोह का मुद्दा उठाया था.
  • कांग्रेस के कोषाध्यक्ष पवन बंसल ने भी नामांकन पत्र लिया है. हालांकि पवन बंसल ने चुनाव लड़ने से इनकार किया है. उन्होंने एबीपी न्यूज़ से बात करते हुए कहा कि मैं अध्यक्ष पद के लिए चुनाव नहीं लड़ने वाला.
  • पहले, कांग्रेस अध्यक्ष (Congress President) पद के अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) का नाम लगभग तय माना जा रहा था लेकिन उनके बगावत वाले एक्शन ने इस चुनाव को लेकर सस्पेंस बढ़ा दिया.
  • एक तरफ जहां राहुल गांधी (Rahul Gandhi) भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) पर हैं तो वहीं सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) दिल्ली (Delhi) में अकेले बैठकर इस बगावत को हैंडल कर रही हैं.
  • पहले खबरें आई कि अशोक गहलोत के खिलाफ पार्टी कोई बड़ी कार्रवाई कर सकती है लेकिन गहलोत के खिलाफ कार्रवाई करने से कांग्रेस को ही नुकसान हो सकता है. कुल मिलाकर कांग्रेस अपनों से ही परेशान है.
  • अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया 30 सितंबर तक चलेगी. एक से ज्यादा उम्मीदवार होने पर 17 अक्टूबर को मतदान होगा और 19 अक्टूबर को परिणाम घोषित किया जाएगा. 

ये भी पढ़ें: गहलोत पर गिरेगी गाज या पायलट को पहनाया जाएगा ताज? अब सोनिया गांधी के पाले में गेंद

ये भी पढ़ें: Rajasthan Political Crisis: सोनिया गांधी ने रिपोर्ट पर लिया एक्शन, अशोक गहलोत के करीबियों को भेजा कारण बताओ नोटिस | 10 बड़ी बातें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments