Wednesday, December 7, 2022
HomeTop Storiesदशहरा रैली से पहले शिंदे और ठाकरे गुट का एक दूसरे पर...

दशहरा रैली से पहले शिंदे और ठाकरे गुट का एक दूसरे पर तंज, वीडियो जारी कर यूं किए वार— News Online (www.googlecrack.com)

Shiv Sena Dussehra Rally: दशहरा रैली को लेकर एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) और उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) गुट अभी भी आमने-सामने हैं. कोर्ट ने उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले गुट को दादर के शिवाजी पार्क में दशहरा रैली की अनुमति दी है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाला गुट बॉम्बे कुर्ला कॉम्प्लेक्स (बीकेसी) में रैली करेगा. 5 अक्टूबर को होने वाली इन दोनों रैलियों से पहले शिवसेना के दोनों गुटों ने रैली के वीडियो टीजर जारी कर एक दूसरे पर तंज कसे हैं. 

शिंदे गुट ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वीडियो जारी करते हुए बॉम्बे कुर्ला कॉम्प्लेक्स में बड़ी संख्या में लोगों से आने का आह्वान किया. इस वीडियो में बाल ठाकरे की आवाज है, जिसमें कहा गया कि शिवाजी, शिवसेना और हिंदुत्व का भगवा झंडा फहरता रहेगा. साथ ही ये भी बताया गया कि सभा के दौरान राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा की जाएगी और प्रेरणादायक भाषण दिए जाएंगे.

शिंदे गुट ने कसा तंज

टीजर में पार्टी कार्यकर्ताओं और उनके प्रयासों की सराहना करने पर भी जोर दिया गया है. शिंदे गुट ने ठाकरे गुट की तुलना करते हुए, वीडियो में परोक्ष हमला किया और बताया कि दूसरा गुट विश्वासघात, मर्दानगी जैसे शब्दों पर ध्यान केंद्रित करेगा. 

शिवाजी पार्क में ठाकरे गुट करेगा रैली

उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाला गुट शिवाजी पार्क में दशहरा रैली करेगा. उनके टीजर की शुरुआत उद्धव ठाकरे की आवाज से होती है, जिसमें उन्होंने छत्रपति शिवाजी महाराज के हवाले से कहा कि कभी भी पीछे से वार नहीं करना चाहिए, लेकिन अगर कोई करता है तो उसे जिंदा नहीं छोड़ा जाना चाहिए. इस आयोजन को ऐतिहासिक बताते हुए शिवसेना नेता ने जोर देकर कहा कि उनके पास अपने लिए कुछ नहीं बचा है, केवल वह शक्ति है जो लोगों ने उन्हें दी है. 

ठाकरे वीडियो में आगे कहते हैं कि रैली में आने वाले प्रत्येक सहभागी के दिल में बाला साहेब ठाकरे हैं और ये बंधन अटूट है. वीडियो के अंत में पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे रैली में आने वाले लोगों से जिम्मेदार और अनुशासित व्यवहार करने की बात कहते हैं. 

दोनों के बीच चली थी रस्साकशी

दशहरा रैली को लेकर महीनों तक दोनों गुटों के बीच रस्साकशी चली है. दोनों ही गुट शिवाजी पार्क में रैली करना चाहते थे. इस मामले में बॉम्बे हाई कोर्ट ने उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) गुट के पक्ष में फैसला सुनाया था और उन्हें शिवाजी पार्क में दशहरा रैली (Dussehra Rally) करने की अनुमति दी थी. कोर्ट के फैसले पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) ने कहा था कि, “हम बॉम्बे हाई कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं और इसे सुप्रीम कोर्ट में चुनौती नहीं देंगे.” 

ये भी पढ़ें- 

Maharashtra News: सीएम शिंदे ने बीकेसी मैदान में दशहरा रैली की तैयारियों का लिया जायजा, जारी हुआ कार्यक्रम का टीजर

दशहरा पर शिंदे कैंप और उद्धव गुट के बीच महासंग्राम, जानें कैसी है मुकाबले की तैयारी

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments