Monday, December 5, 2022
HomeTop Storiesस्कूली छात्रा ने सैनिटरी नैपकिन की बात कही तो उखड़ गईं महिला...

स्कूली छात्रा ने सैनिटरी नैपकिन की बात कही तो उखड़ गईं महिला अधिकारी— News Online (www.googlecrack.com)

Bihar News: बिहार में एक स्कूली छात्रा ने आईएएस हरजोत कौर से एक साधारण सा सवाल किया, उसने पूछा कि जब सरकार साइकिल, पोशाक देती है तो हम लड़कियों को “क्या सरकार 20-30 रुपये का सेनेटरी पैड दे सकती है?” उसके इस सवाल पर हरजोत कौर ने कहा, “आज आप कह रही हो कि सरकार सैनिटरी नैपकिन दे, फिर कल आप कहेंगी कि सरकार जींस भी दे सकती है और उसके बाद कुछ सुंदर जूते क्यों नहीं दे सकती?” आईएएस अधिकारी हरजोत कौर ने आगे कहा, “आप अंततः उम्मीद करोगी कि सरकार आपको परिवार नियोजन के तरीके, कंडोम भी देगी.”

बच्चियों के सवाल सुनकर उखड़ गईं

राज्य के महिला एवं बाल विकास निगम की प्रमुख हरजोत कौरा, यूनिसेफ और अन्य संगठनों के साथ साझेदारी में मंगलवार को आयोजित एक समारोह में गईं थीं. समारोह का विषय था ‘सशक्त बेटियां, समृद्ध बिहार’, इस कार्यशाला में झुग्गी-झोपड़ियों में रहनेवाली लड़कियों से सवाल-जवाब के क्रम में हरजोत कौर बच्चियों के सवाल सुनकर उखड़ गईं. जब एक छात्रा ने उन्हें याद दिलाया कि हम लोगों के वोट से ही सरकार बनती है तो अधिकारी ने कहा- “यह तो मूर्खता की पराकाष्ठा है. वोट मत करो, पाकिस्तान बनो. क्या आप सरकार से पैसे और सेवाओं के लिए वोट करते हैं?” इसपर छात्रा ने पलटवार किया: “मैं एक भारतीय हूं, मैं क्यों पाकिस्तान बनूं?”

सरकार से पैसे लेने की जरूरत क्यों है 

उन्होंने लड़कियों से पूछा “आपको सरकार से कुछ भी लेने की ज़रूरत क्यों है? यह सोचने का तरीका गलत है. आपलोग खुद से कुछ करने का सोचो, खुद से कुछ पैसे कमाने का तरीका सीखो, स्वावलंबी बनो.” बता दें कि इस कार्यशाला में सरकारी स्कूल में पढ़नेवाली कक्षा 9 और 10 की लड़कियां शामिल थीं.

आईएएस ऑफिसर ने दिया अजीबोगरीब जवाब

जब एक छात्रा ने कहा कि उसके स्कूल में लड़कियों का शौचालय टूटा हुआ है और लड़के अक्सर घुस जाते  हैं तो अधिकारी ने जवाब दिया, “मुझे बताओ, क्या आपके घर में अलग शौचालय हैं? अगर आप अलग-अलग जगहों पर बहुत सी चीजें मांगते रहेंगे तो यह कैसे काम करेगा?”

हरजोत कौर ने लड़कियों से कहा “आपको यह तय करना होगा कि भविष्य में आप खुद को कहां देखना चाहती हैं. यह निर्णय सरकार नहीं कर सकती. क्या तुम जहां हो, वहीं बैठना चाहती हो या उस तरफ बैठना चाहती हो आज जहां मैं बैठी हूं?”

यह दुर्भावनापूर्ण और गलत रिपोर्टिंग है

जब उन्हें वीडियो दिखाया गया तो उन्होंने आरोप लगाया, “मैं महिला अधिकारों और सशक्तिकरण के सबसे मुखर चैंपियन में से एक के रूप में जानी जाती हूं. कुछ शरारती तत्व, जिनके खिलाफ डब्ल्यूसीडीसी द्वारा चूक और गलत काम करने के लिए कड़ी कार्रवाई की गई है, प्रत्येक मंच पर हारने के बाद, अब ऐसे प्रयासों का सहारा लेकर मेरी प्रतिष्ठा को धूमिल करने की साजिश रच रहे हैं.” 

ये भी पढ़ें:
PFI Ban 10 Updates: प्रतिबंध के बाद मेंबर्स का क्या होगा, पुलिस कर सकती है अरेस्ट ? कौन जा रहा बैन के खिलाफ कोर्ट, जानें सबकुछ

India Gets New CDS: देश के दूसरे सीडीएस बने लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments