Friday, December 9, 2022
HomeTop StoriesCM योगी को नीती कुमार ने भेजी चिट्ठी, लिखा- JP के गांव...

CM योगी को नीती कुमार ने भेजी चिट्ठी, लिखा- JP के गांव में अधूरे काम को पूरा करे यूपी सरकार— News Online (www.googlecrack.com)

पटना: बिहार में जेपी नारायण (JP Narayan) को लेकर फिर से सियासत छिड़ गई है. इसकी शुरुआत बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ( Nitish Kumar) ने की है. उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) को एक पत्र लिखा है. पत्र में उन्होंने यूपी-बिहार बॉर्डर (Bihar-UP Border) स्थित जेपी नारायण के पैतृक गांव सिताबदियारा के लंबित कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करने की मांग की है. सीएम ने शुक्रवार को एक कार्यक्रम में गांव सिताबदियारा में कई परियोजनाओं की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शुरुआत की. इस दौरान पड़ोसी राज्य में विकास कार्यों की धीमी गति पर उन्होंने दुख जताया. वहीं मुख्यमंत्री नीतीश ने सात अक्टूबर को यूपी सरकार (CM Nitish Letter To CM Yogi Adityanath) को पत्र लिखा है. 

यूपी क्षेत्र स्थित जेपी के पैतृक गांव में रिंग डैम बनाने का कार्य है अधूरा

पत्र में मुख्यमंत्री लिखते हैं कि लोकनायक जयप्रकाश नारायण की जन्मभूमि सिताबदियारा (बिहार और उत्तर प्रदेश की सीमा के पास गंगा और घाघरा नदी के संगम पर बिहार के सारण जिला में अवस्थित है जिसका कुछ हिस्सा यूपी क्षेत्र में आता है) गांव में बारिश के दिनों में कटाव का खतरा बना रहता था. पिछले कुछ सालों में वहां कटाव के हालात भी उत्पन्न हुए थे. 

इस इलाके को बाढ़ से बचाने के लिए घाघरा नदी की ओर से एक रिंग डैम बनाने का कार्य शुरू किया गया. इस कार्य की शुरुआत 2017-2018 में  हुई थी जिसमें बिहार भू-भाग में लगभग चार किमी और उत्तर प्रदेश के इलाके में लगभग साढ़े तीन किमी की लंबाई में रिंग डैम का काम शुरू किया गया. इस रिंग डैम की लंबाई लगभग साढ़े सात किमी है. वहीं यह कार्य बिहार वाले क्षेत्र में पूरा हो गया लेकिन, यूपी के क्षेत्र का कार्य अभी भी पेंडिंग है.

यह भी पढ़ें- Exclusive: कार्तिक सिंह फरार लेकिन कर रहे हैं चुनाव प्रचार! अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी के साथ तस्वीर आई

हाजीपुर-गाजीपुर एनएच 31 पर तीन किमी का कार्य भी पेंडिंग   

आगे पत्र में सीएम लिखते हैं कि हाजीपुर-गाजीपुर एनएच 31 से सिताब दियारा तक जाने वाली बीएसटी मेन डैम की लंबाई लगभग साढ़े छह किमी है. इसमें लगभग दो से तीन किमी लंबी सड़क का काम उत्तर प्रदेश राज्य के क्षेत्र में पेंडिंग है. कार्य पेंडिंग होने के कारण यातायात में भी समस्या उत्पन्न हो रही. आगे पत्र में सीएम बोले कि सिताब दियारा रिंग बांध के अपस्ट्रीम और डाउनस्ट्रीम को बीएसटी मुख्य बांध से जोड़ने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा काम शुरू की गई थी. अभी तक पूरी नहीं हुई है. उन्होंने इस अधूरे कार्य को पूरा करने का यूपी के मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है.

जेपी के पैतृक गांव का यूपी में है कुछ क्षेत्र

बता दें कि जेपी की जन्मभूमि सिताबदियारा बिहार और यूपी की सीमा के पास गंगा एवं घाघरा नदी के संगम पर बसी हुई है. इसका कुछ हिस्सा बिहार के सारण जिला में आता है, वहीं कुछ यूपी में पड़ता है. इस कार्य को जल्द ही पूरा करने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है.

यह भी पढ़ें- Sudha Milk Price: सुधा ने बढ़ाया दूध का दाम, एक और आधा लीटर पर देने होंगे अब अधिक पैसे, जानें कब से होगा लागू

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments