Friday, December 9, 2022
HomeTop StoriesShardiya Navratri 2022: शारदीय नवरात्रि में कभी भी जपें मां दुर्गा के...

Shardiya Navratri 2022: शारदीय नवरात्रि में कभी भी जपें मां दुर्गा के प्रभावशाली मंत्र, मिलेगा सौभाग्य और धन!— News Online (www.googlecrack.com)

दुर्गा सप्तशती के प्रभावशाली मंत्र | Poweful Mantra of Durga Saptashati

1.देहि सौभाग्यमारोग्यं देहि मे परमं सुखम्

रूपं देहि जयं देहि यशो देहि द्विषो जहि

नवरात्रि में इस मंत्र का जाप करने से रोग दूर होते हैं. साथ ही हर सुख का सौभाग्य प्राप्त होता है. 

2.सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके

शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते

नवरात्रि में इस मंत्र का जाप सभी प्रकार की मंगलकामनाओं के लिए किया जाता है. 

3. शरणागतदीनार्तपरित्राणपरायणे

सर्वस्यार्तिहरे देवि नारायणि नमोऽस्तुते

इस मंत्र के जाप से दुख दूर होते हैं. ऐसे में नवरात्रि में इस मंत्र का जाप दूख को दूर करने के लिए किया जा सकता है. 

Durga Temples: ये हैं मां दुर्गा के प्रसिद्ध 5 मंदिर, नवरात्रि में दर्शन करने से मिलती है भगवती की विशेष कृपा

4.पत्नी मनोरमां देहि मनोवृत्तानुसारिणीम्

तारिणीं दुर्गसंसारसागरस्य कुलोद्भवाम्

दुर्गा सप्तशती के इस मंत्र का जाप सुदंर, सुशील और सौम्य जीवनसाथी की प्राप्ति के लिए किया जाता है. मनचाहा पत्नी की प्राप्ति के लिए इस मंत्र का जाप किया जाता है. 

5.सर्वबाधाविनिर्मुक्तो धनधान्यसुतान्वित:

मनुष्यो मत्प्रसादेन भविष्यति न संशय:

नवरात्रि में दुर्गा सप्तशती के इस मंत्र का जाप सभी प्रकार की बाधाओं से मुक्ति पाने कि लिए किया जाता है. माना जाता है कि इस मंत्र का जाप करने से जीवन में आ रही बाधाओं का अंत होता है. 

6.या देवी सर्वभूतेषु लक्ष्मी-रूपेण संस्थिता

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः

मां लक्ष्मी की कृपा हर कोई पाना चाहता है. ऐसे में नवरात्रि के दौरान उपरोक्त मंत्र का जाप कर सकते हैं. माना जाता है कि इस मंत्र का जाप करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है जिससे आर्थिक समस्या दूर होती है.

Navratri 2022: नवरात्रि में मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए ये 4 उपाय हैं खास, परेशानियां हो सकती हैं दूर

7.ऐश्वर्यं यत्प्रसादेन सौभाग्य-आरोग्य सम्पदः

शत्रु हानि परो मोक्षः स्तुयते सान किं जनैः

नवरात्रि में दुर्गा सप्तशती के इस मंत्र का जाप शत्रुओं से हो रही हानि को दूर करने के लिए किया जाता है. माना जाता है कि नवरात्रि में इस मंत्र के जाप से शत्रु शांत रहते हैं. 

8.सृष्टिस्थितिविनाशानां शक्तिभूते सनातनि

गुणाश्रये गुणमये नारायणि नमोस्तु ते

नवरात्र में दुर्गा सप्तशती के इस मंत्र का जाप करने से व्यक्ति के दुर्गुण दूर होते हैं. साथ ही माता की विशेष कृपा प्राप्त होती है.

9.रोगानशेषानपहंसि तुष्टा

रुष्टा तु कामान् सकलानभीष्टान्

त्वामाश्रितानां न विपन्नराणां

त्वामाश्रिता ह्याश्रयतां प्रयान्ति


दुर्गा सप्तशती के इस मंत्र का जाप करने से असाध्य रोगों का नाश होता है. मान्यता है कि नवरात्रि में इस मंत्र का विधिवत 108 बार जाप करने से भगवती का आशीर्वाद मिलता है. 

Navratri 2022 Day 3: नवरात्रि के तीसरे दिन होती है मां चंद्रघंटा की पूजा, जानें पूजा विधि, मंत्र आरती और खास रंग

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

राजस्थान: दुर्गा पूजा की तैयारियां शुरू, बनाई जा रही हैं मां की मूर्तियां

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments