Friday, December 9, 2022
HomeWorld Newsपश्चिमी देशों पर जमकर बरसे व्लादिमीर पुतिन, बोले पहले भारत को लूटा,...

पश्चिमी देशों पर जमकर बरसे व्लादिमीर पुतिन, बोले पहले भारत को लूटा, अब निशाने पर रूस— News Online (www.googlecrack.com)

Vladimir Putin Speech: रूस (Russia) के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन (Vladimir Putin) ने शुक्रवार (30 सितंबर) को यूक्रेन (Ukraine) के चार हिस्सों- लुहांस्क (Luhansk), डोनेट्स्क (Donetsk), जैपोरिजिया (Zaporizhzhia) और खेरसॉन (Kherson) को अपने देश में मिलाने की घोषणा की. 

यूक्रेन के इन चार हिस्सों का रूस में विलय करने के लिए क्रेमलिन में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था. इस मौके पर रूसी राष्ट्रपति पश्चिमी देशों पर जमकर बरसे. उन्होंने इस दौरान रूस के खिलाफ साजिश का आरोप पश्चिमी देशों पर लगाया. पुतिन ने भारत का भी नाम लेते हुए पश्चिमी देशों पर हमला किया. पुतिन ने पश्चिमी देशों पर लोगों का नरसंहार करने, लोगों के साथ जानवरों जैसा बर्ताव करने और भारत को लूटने का आरोप लगाया. साथ ही उन्होंने कहा पश्चिमी देश रूस को भी कॉलोनी बनाना चाहते थे, वे रूस को कमजोर करने का मौका तलाश रहे हैं.

पुतिन के भाषण में भारत का जिक्र

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, पुतिन ने क्रेमलिन में अपने भाषण के एक हिस्से में कहा, ”पश्चिम ने मध्य युग में अपनी औपनिवेशक नीति वापस शुरू की और फिर गुलामों का व्यापार, अमेरिका में भारतीय जनजातीय समूहों का नरसंहार, भारत और अफ्रीका की लूट और चीन के खिलाफ इंग्लैंड और फ्रांस के युद्ध कराए.”

पुतिन ने आगे कहा, ”पश्चिम यह कर रहा था कि पूरे देशों को नशे में फंसा रहा था और जानबूझकर पूरे जातीय समूहों को खत्म कर रहा था. जमीन और संसाधनों के लिए उन्होंने जानवरों की तरह लोगों का शिकार किया. यह इंसान की प्रकृति, सत्य, स्वतंत्रता और न्याय के खिलाफ है.”

पश्चिम पर शैतानवाद का लगाया आरोप

पुतिन ने कहा कि पश्चिम अब पूरी तरह से नैतिक मानदंडों, धर्म और परिवार के कट्टरपंथी खंडन की ओर बढ़ गया है. पश्चिमी अभिजात वर्ग सभी समाजों के खिलाफ तानाशाही कर रहा है, जिसमें पश्चिमी देशों के लोग भी शिकार हो रहे हैं. यह सभी के लिए चुनौती है. यह पूरी तरह से मानवता का खंडन, आस्था और पारंपरिक मूल्यों को उखाड़ फेंकना है. वास्तव में, स्वतंत्रता के दमन ने खुद एक धर्म की विशेषताओं पर कब्जा कर लिया है. यह पूरी तरह से शैतानवाद है.”

पुतिन ने कहा, ”अमेरिका दुनिया का एकमात्र ऐसा देश है जिसने दो बार परमाणु हथियारों का इस्तेमाल किया है, जिसने जापान के हिरोशिमा और नागासाकी को नष्ट कर इसका उदाहरण दिया है. आज भी उसका जर्मनी, जापान, कोरिया गणराज्य और अन्य देशों पर कब्जा है और साथ ही उन्हें समान स्थिति वाला सहयोगी बताता है.”

यूक्रेन से क्या बोले पुतिन?

रूसी राष्ट्रपति ने कहा, ”मैं चाहता हूं कि कीव के अधिकारी और पश्चिम में उनके वास्तविक मालिक मेरी बात सुनें ताकि वे इसे याद रखें. लुहांस्क और डोनेट्स्क, खेरसॉन और जैपोरिजिया में रहने वाले लोग हमारे नागरिक बन रहे हैं, हमेशा के लिए.” पुतिन ने कहा, ”हम कीव शासन से दुश्मनी को तुरंत खत्म करने और उस युद्ध को समाप्त करने का आह्वान करते हैं, जिसे उसने 2014 में शुरू किया था. वह बातचीत की मेज पर वापस आए. हम इसके लिए तैयार हैं, लेकिन डोनेट्स्क, लुहांस्क, जैपोरिजिया और खेरसॉन में लोगों की पसंद पर चर्चा नहीं करेंगे.” रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने कहा, ”हम अपने अधिकार की सभी शक्तियों और साधनों का इस्तेमाल करते हुए अपनी जमीन की रक्षा करेंगे.”

ये भी पढ़ें

Russia-Ukraine War: यूक्रेन के 4 क्षेत्रों को रूस में शामिल करने के बाद पुतिन ने 3 बार- रशिया, रशिया…रशिया नारा लगा अमेरिका को दी धमकी

यूक्रेन के चार इलाकों के Russia में विलय से भड़का अमेरिका, 1000 रूसी नागरिकों को किया बैन

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments